Home NATIONAL UP legislative assembly: राज्यपाल पर फेंके कागज के गोले की नारेबाजी

UP legislative assembly: राज्यपाल पर फेंके कागज के गोले की नारेबाजी

0
2
UP legislative assembly

UP legislative assembly बजट सत्र में मंगलवार को जमकर हंगामा हुआ. विपक्षी दलों ने बीजेपी सरकार के खिलाफ जमकर नारेबाजी की.

लखनऊ:LNN:UP legislative assembly के पहले दिन राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान विपक्ष ने जमकर हंगामा किया.

राज्यपाल राम नाईक ने आज विधान सभा एवं परिषद के दोनों सदनों को संबोधित सरकार की उपलब्धियों और किए गए विकास कार्यों को रखा.

समाजवादी पार्टी विधायकों ने राज्यपाल के ऊपर कागज के गोले फेंके.  राज्यपाल लगभग 1 घंटे तक अभिभाषण पढ़ते रहे.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सदन में विपक्ष की निंदा की. मुख्यमंत्री ने सदन को संबोधित किया.

यह भी पढ़ें:nitin gadkari ने कहा राहुल गांधी के सर्टिफिकेट की जरूरत नहीं

सीएम योगी आदित्यनाथ ने कहा कि समाजवादी पार्टी और बहुजन समाज पार्टी के विधायकों ने राज्यपाल के अभिभाषण के दौरान उनका जिस तरह का अपमान किया है. यह कृत्य घोर निंदनीय है.

राज्यपाल राम नाईक अपना अभिभाषण पढ़ रहे थे और माननीय लोग अभद्रता की सीमा लांघ रहे थे.

सत्र से पहले सर्वदलीय बैठक में सदन को अच्छे ढंग से चलाने पर बात होती है. समाजवादी पार्टी अपनी गुंडागर्दी के आचरण से बाहर नहीं आ पा रही है.

समाजवादी पार्टी के सदस्यों ने राज्यपाल वापस जाओ के नारे लगाए .

प्रदर्शन के दौरान विधायकों ने बीजेपी सरकार को जुमले वाली सरकार करार देते हुए पीएम मोदीसीएम योगी के खिलाफ प्रदर्शन किया.

बजट सत्र शुरू होने से पहले सपा-बसपा विधान भवन में मिलकर प्रदर्शन किया और नारेबाजी की.

आज़म खां और रामगोविंद चौधरी ने केंद्र और राज्य सरकार पर जमकर हमला किया.

UP legislative assembly सत्र तब हो रहा है जब लोकसभा चुनाव नजदीक आता जा रहा है.

बसपा-सपा का गठबंधन का ऐलान हो चुका है. इसका असर सदन के बाहर ही देखने को मिला.

समाजवादी पार्टी नेता आजम खान ने कहा कि इस देश में मुसलमानों के साथ गलत सलूक हो रहा है. क्या यही राज है?

आजम ने पश्चिम बंगाल में मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के धरने पर भी बयान दिया.

विधानसभा को कल 11 बजे तक के लिए स्थगित किया गया.

योगी सरकार के वित्त मंत्री राजेश अग्रवाल ने बताया कि सरकार अगले वित्त वर्ष के लिए अपना बजट सात फरवरी को पेश करेगी.

योगी सरकार का यह तीसरा बजट होगा. लोकसभा चुनाव में अब दो माह हैं.

यह भी पढ़ें:Union Budget 2019-20: मोदी सरकार का लोकलुभावन चुनावी बजट पेश

माना जा रहा है कि यह बजट आम जनता को राहत देने वाला होगा

बजट में कृषि, सामाजिक एवं बुनियादी ढांचा क्षेत्र पर विशेष जोर रहने की उम्मीद है.

विधानसभा में हंगामे के दौरान सपा विधायक सुभाष पासी बेहोश हुए. पासी अस्पताल पहुंचाया गया.

आज विधान भवन प्रांगण में चौधरी चरण सिंह की प्रतिमा के नीचे के सपा सदस्य विधानसभा में भी धरने पर बैठे.

Follow us on Facebook

NO COMMENTS

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

%d bloggers like this: