USA military aid बंद करने पर भड़का पाकिस्तान

0
27

USA military aid रोकेने पर पाकिस्तान ने अमेरिका के साथ खुफिया सहयोग रोका

नई दिल्ली.:LNN: USA military aid रोकेने पर पाकिस्तान ने अमेरिका के साथ खुफिया सहयोग पर लगा रोक दी.

USA military aid रोकेने की खबरों के बीच ट्रंप प्रशासन ने कहा कि पाक आतंकवादी समूहों के खिलाफ कारवाई करेगा जो उसकी जमीन से गतिविधियों कर रहें.

गौरतलब है कि अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप ने पाकिस्तान पर आरोप लगाया था कि पाकिस्तान ने अमेरिका को झूठ और धोखे के अलावा कुछ नहीं दिया.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने पाकिस्तान को दी जानेवाली USA military aid पर रोक दी हैं.

ये भी पढ़ें: Supreme Court ने केंद्रीय विद्यालयों की सुबह की प्रार्थना पर केंद्र सरकार को जारी किया नोटिस

पाकिस्तान रक्षा मंत्री खुर्म दस्तगीर खान ने कहा ट्रंप के बयान पर पाकिस्तान ने खुफिया सहयोग रोकने का निर्णय किया है.

रक्षा मंत्री ने कहा कि ट्रंप के आरोपों को देखते हुए पाकिस्तान ने अमेरिका के साथ खुफिया सहयोग को रोका है.

अमेरिकी राष्ट्रपति ने रोक दी पाकिस्तान को दी जानेवाली सैन्य सहायता

अमेरिका युद्ध प्रभावित अफगानिस्तान में अपनी विफलता को लेकर पाकिस्तान को कुर्बानी का बकरा बना रहा है.

इस्लामाबाद में अमेरिकी दूतावास ने कहा है कि उसे पाकिस्तान द्वारा सैन्य सहयोग रोके जाने के बारे में सूचित नहीं किया गया है.

अमेरिका के उप विदेश मंत्री स्टीव गोल्डस्टीन ने कहा हम पाकिस्तान के साथ आगे भी सहयोग को लेकर आशान्वित हैं .

हमें उम्मीद है कि पाकिस्तान तालिबान नेटवर्क हक्कानी नेटवर्क और आतंकवादी समूहों के खिलाफ सख्ती से कारवाई करेगा.

इससे हमारे द्विपक्षीय सुरक्षा संबंध गहरे होंगे इस मामले को लेकर अमेरिका का रुख स्पष्ट रहा है.

उन्होंने कहा हम चाहेंगे कि पाकिस्तान बातचीत की मेज पर आये और इस प्रयास में हमारी मदद करे.

इससे पहले अमेरिका ने घोषणा की थी कि वह पाकिस्तान को सैन्य उपकरण मुहैया नहीं करायेगा.

गोल्डस्टीन ने कहा पाकिस्तान के लोगों ने आतंकवाद के कारण काफी कुछ सहा है.

उसके सुरक्षाबल पाकिस्तान के हित को निशाना बनानेवाले समूहों से निपटने में प्रभावी रहे हैं .

यह उनके लिए भी लाभकारी होगा कि वे इस समस्या से निपटने में हमारी मदद करें.

ट्रंप प्रशासन ने कहा कि अमेरिकी सहायता हासिल करने के लिए पाकिस्तान आतंकवादी समूहों के खिलाफ ठोस कदम उठाए.

Follow us on Facebook.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here